Uncategorized

सर्दी की धूप में फुरसत का दिन और कविताओं की चुस्की

एक वैश्विक कवि सम्मेलन

Rashmi Prabha
रश्मि प्रभा
Khushboo
खुश्बू

पूरे उत्तर भारत में सर्दी अपनी तमाम विविधताओं के साथ उतर चुकी है। लगातार धूप की तपिश और बरसाती मौसम की उमस से व्याकुल लोगों के लिए सुख और संतोष के दिन। और वैसे में भी रविवार का दिन। छुट्टी का दिन। फुरसत का दिन। और चूँकि माह का आखिरी रविवार है तो उम्मीद की जा सकती है कि वेतन भी मिल गया होगा। हालाँकि महँगाई अधिक है, फिर भी हम यही कहेंगे कि इस खास रविवार के लिए चाय के प्रबंध कर लेने भर का पैसा ज़रूर बचाये रखें, क्योंकि रश्मि प्रभा आज लेकर आती हैं, कवि सम्म्मेलन का विशेष कार्यक्रम। हिन्द-युग्म तो एक वैश्विक मंच है, वैसे केवल उत्तर भारतीय श्रोताओं की चिंता करना बेमानी होगी। हम मानते हैं कि उत्तर भारतीयों का हर मौसम की क्रूरता और अपनत्व से जितना सामीप्य है, उतना शायद दुनिया के दूसरे भूभागीयों का नहीं। वैसे हिन्द-युग्म के श्रोता दुनिया भर के 150 से भी अधिक देशों फैले हैं, तो यदि हम यह भी उम्मीद करें कि कहीं-कहीं भीषण गर्मी होगी, कहीं तूफान होगा तो भी यह तो हमारा विश्वास है कि रश्मि प्रभा के संचालन से उन्हें बहुत राहत मिलेगी।

अब बातों के संसार से बाहर निकल, चलते हैं वागर्थों की दुनिया में-

प्रतिभागी कवि- माधुरीलता पाण्डेय, शरद तैलंग, किशोर कुमार खोरेन्द्र, सुषमा श्रीवास्तव, रिज़वाना कश्यप ‘शमा’।

संचालन- रश्मि प्रभा

तकनीक- खुश्बू

यदि आप इसे सुविधानुसार सुनना चाहते हैं तो कृपया नीचे के लिंकों से डाउनलोड करें-

WMA MP3

आप भी इस कवि सम्मेलन का हिस्सा बनें

दिसम्बर अंक से हम कवि सम्मेलन का नया रूप लेकर हाज़िर होंगे। हिन्द-युग्म फरवरी 2007 से एक विशेष विषय पर कविता-लेखन ‘काव्य-पल्लवन’ का आयोजन करता है। हम फरवरी 2007 में हो चुके काव्य-पल्लवन का विषय दिसम्बर 2009 के पॉडकास्ट कवि सम्मेलन के लिए चुन रहे हैं। विषय है- ‘आधुनिक विकास और गाँव’। यह काव्य-पल्लवन यहाँ पढ़ें। आप भी इसी विषय पर अपनी कविता लिखें और रिकॉर्ड करें। रश्मि प्रभा के साथ यदि आप भी अतिथि संचालक होना चाहते हैं तो हमें लिखें।

1॰ अपनी साफ आवाज़ में अपनी कविता/कविताएँ रिकॉर्ड करके भेजें।
2॰ जिस कविता की रिकॉर्डिंग आप भेज रहे हैं, उसे लिखित रूप में भी भेजें।
3॰ अधिकतम 10 वाक्यों का अपना परिचय भेजें, जिसमें पेशा, स्थान, अभिरूचियाँ ज़रूर अंकित करें।
4॰ अपना फोन नं॰ भी भेजें ताकि आवश्यकता पड़ने पर हम तुरंत संपर्क कर सकें।
5॰ कवितायें भेजते समय कृपया ध्यान रखें कि वे 128 kbps स्टीरेओ mp3 फॉर्मेट में हों और पृष्ठभूमि में कोई संगीत न हो।
6॰ उपर्युक्त सामग्री भेजने के लिए ईमेल पता- podcast.hindyugm@gmail.com
7. दिसम्बर 2009 अंक के लिए कविता की रिकॉर्डिंग भेजने की आखिरी तिथि- 20 दिसम्बर 2009
8. दिसम्बर 2009 अंक का पॉडकास्ट सम्मेलन रविवार, 27 दिसम्बर 2009 को प्रसारित होगा।

रिकॉर्डिंग करना कोई बहुत मुश्किल काम नहीं है। हमारे ऑनलाइन ट्यूटोरियल की मदद से आप सहज ही रिकॉर्डिंग कर सकेंगे। अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ देखें।

# Podcast Kavi Sammelan. Part 17. Month: November 2009.
कॉपीराइट सूचना: हिंद-युग्म और उसके सभी सह-संस्थानों पर प्रकाशित और प्रसारित रचनाओं, सामग्रियों पर रचनाकार और हिन्द-युग्म का सर्वाधिकार सुरक्षित है।

Related posts

मैं अमर के शब्दचित्र में उतरी एक छोटी-सी कविता हूँ…

Sajeev

Untitled Post

Amit

पिया पिया न लागे मोरा जिया…आजा चोरी चोरी….

Sajeev