Tag : shiv hari

Uncategorized

“तू मुझे सुना मैं तुझे सुनाऊँ अपनी प्रेम कहानी…”, दो दोस्तों के इस गीत के बहाने ज़िक्र आनन्द बक्शी और यश चोपड़ा के दोस्ती की

PLAYBACK
एक गीत सौ कहानियाँ – 82  ‘तू मुझे सुना मैं तुझे सुनाऊँ अपनी प्रेम कहानी…‘  रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी श्रोता-पाठकों को सुजॉय चटर्जी का...
Uncategorized

“यह कहाँ आ गए हम…” और “हम कहाँ खो गए…” गीतों का आपस में क्या सम्बन्ध है?

PLAYBACK
एक गीत सौ कहानियाँ – 58  ‘यह कहाँ आ गए हम…’ रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी श्रोता-पाठकों को सुजॉय चटर्जी का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों,...
Uncategorized

सुरीली बाँसुरी के पर्याय पण्डित हरिप्रसाद चौरसिया

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 174 में आज व्यक्तित्व – 4 : पण्डित हरिप्रसाद चौरसिया ‘देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिले हुए…’  ‘रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के साप्ताहिक स्तम्भ...
Uncategorized

तेरा करम ही तेरी विजय है….यही तो सार है गीता का और यही है मन्त्र जीवन के हर खेल का भी

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 610/2010/310 खेलकूद और ख़ास कर क्रिकेट की चर्चा करते हुए आज हम आ पहुँचे हैं लघु शृंखला ‘खेल खेल में’...
Uncategorized

ये कहाँ आ गए हम…यूँ हीं जावेद साहब के लिखे गीतों को सुनते सुनते

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 317/2010/17 स्वरांजली’ की आज की कड़ी में हम जन्मदिन की मुबारक़बाद दे रहे हैं गीतकार, शायर और पटकथा व संवाद...