Tag : Sharad kokas

Mann Machine Philosophy

दिनकर साहित्य चर्चा : भाग 2

Sajeev Sarathie
Volume 25दिनकर के काव्य में सौंदर्य और प्रेम पर सुनिए एक सारगर्भित वार्ता।वक्ताशरद कोकास – दुर्ग छत्तीसगढ़ प्रज्ञा मिश्र – मुंबई महाराष्ट्र Speakers: Pragya Mishra,...
Philosophy

दिल पे तीर वाले इमोजी का अविष्कार : मन मशीन

Sajeev Sarathie
Volume 17 प्रेमीजन अक्सर दिल पर तीर वाले इमोजी का इस्तेमाल प्रेम प्रकट करने के लिए करते हैं लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इसका...
Mann Machine Philosophy

मेरा लाल दुपट्टा मलमल का | मन मशीन

Sajeev Sarathie
Volume 19 एक समय था जब मनुष्य कपड़े नहीं पहनता था फिर उसे कपड़ों की जरूरत क्यों पड़ी ? दुनिया का पहला वस्त्र क्या था...
Philosophy विविध

उसे फ्लाइंग किस करना नहीं आता था | मन मशीन

Sajeev Sarathie
Volume 16 आदिम मनुष्य ने आपसी संवाद स्थापित करने हेतु किस तरह संकेतों का प्रयोग किया,किस तरह शब्दों की खोज की और किस तरह भाषा...
Mann Machine Philosophy

पापा टेबल मम्मी कुर्सी तो बच्चे का नाम ? | मन मशीन

Sajeev Sarathie
Volume 15 सोच में पड़ गए ना आप लोग ? सोचिए सोचिए …बुधवार 3 अगस्त , रात 8:00 बजे ‘मनमशीन’ पर इस सवाल का जवाब...
Philosophy

अच्छा ! क्या पेड़ पौधे भी टॉयलेट जाते हैं ?

Sajeev Sarathie
ज़ाहिर है जो काम मनुष्य, पशु पक्षी आदि सजीव प्राणि करते हैं वे पेड़ पौधे भी करेंगे ही । लेकिन कैसे ? यही तो जानना...
Philosophy

ज़िंदगी भी एक केमिकल लोचा है

Sajeev Sarathie
जीवन के बारे में काव्य कल्पनाओं से अलग आपके दैनिक जीवन की कुछ वैज्ञानिक सच्चाइयों को लेकर आ रहे हैं हम लोग शरद कोकास वसुधा...