Tag : s d burman

एक गीत सौ अफ़साने

कभी न कभी, कहीं न कहीं, कोई न कोई तो आएगा

Sajeev Sarathie
वर्ष 1964 की चर्चित फ़िल्म ’शराबी’ का गीत “कभी ना कभी, कहीं ना कहीं, कोई ना कोई तो आएगा”। मोहम्मद रफ़ी की आवाज़, राजिन्दर कृष्ण...
Dil se Singer

फ़िल्मी चक्र समीर गोस्वामी के साथ || एपिसोड 10 || एस डी बर्मन

cgswar
Filmy Chakra With Sameer Goswami  Episode 10 S.D.Burman  फ़िल्मी चक्र कार्यक्रम में आप सुनते हैं मशहूर फिल्म और संगीत से जुडी शख्सियतों के जीवन और...
Dil se Singer

“गाता रहे मेरा दिल…”, क्यों फ़िल्म के बन जाने के बाद इस गीत को जोड़ा गया?

PLAYBACK
एक गीत सौ कहानियाँ – 81  ‘गाता रहे मेरा दिल…‘  रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी श्रोता-पाठकों को सुजॉय चटर्जी का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों, हम...
Dil se Singer

हिन्दी फिल्मी गीतों में रवीद्र संगीत – एक शोध

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – ६७ में आज रवीन्द्र-सार्द्धशती वर्ष में विशेष ‘पुरानो शेइ दिनेर कथा…’ जहाँ एक ओर फ़िल्म-संगीत का अपना अलग अस्तित्व है, वहीं दूसरी ओर...
Dil se Singer

सुन री पवन, पवन पुरवैया.. भटयाली संगीत की लहरों में बहाते बर्मन दा

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 766/2011/206 नमस्कार! ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ के सभी श्रोता-पाठकों का इस नए सप्ताह में हार्दिक स्वागत है। इन दिनों जारी है...
Dil se Singer

दिन ढल जाए हाय रात न जाए….सरफिरे वक्त को वापस बुलाती रफ़ी साहब की आवाज़

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 711/2011/151 ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ के दोस्तों, नमस्कार, और बहुत बहुत स्वागत है आप सभी का इस सुरीले सफ़र में। कृष्णमोहन...
Dil se Singer

"नज़र लागी राजा तोरे बंगले पर.." – ठुमरी जब लोक-रंग में रँगी हो

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 686/2011/126 ‘ओल्ड इज गोल्ड’ पर जारी श्रृंखला “रस के भरे तोरे नैन” के दूसरे सप्ताह में मैं कृष्णमोहन मिश्र आप...
Dil se Singer

तेरी बिंदिया रे….शब्द और सुरों का सुन्दर मिलन है ये गीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 668/2011/108 ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ में इन दिनों जारी है मजरूह सुल्तानपुरी पर केन्द्रित लघु शृंखला ‘…और कारवाँ बनता गया’। इसके...
Dil se Singer

जानू जानूं रे काहे खनके है तोरा कंगना…..आपसी छेड़ छाड और गीत में गूंजते हँसी ठहाके

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 651/2011/91 ‘ओल्ड इस गोल्ड’ के दोस्तों, नमस्कार! मनुष्य मन अपनी हर अनुभूति को किसी न किसी तरह से व्यक्त करता...
Dil se Singer

हटो काहे को झूठी बनाओ बतियाँ…मेलोडी और हास्य के मिश्रण वाले ऐसे गीत अब लगभग लुप्त हो चुके हैं

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 649/2010/349 मन्ना डे के गीतों की चर्चा महमूद के बिना अधूरी रहेगी। हास्य अभिनेता महमूद नें रुपहले परदे पर बहुतेरे...