Tag : rote hue aate hain sab

Dil se Singer

"रोने से दुःख कम न होंगे तो क्यों न हंस खेल जिंदगी बिता लें हम…"- यही था फलसफा किशोर दा का

Amit
श्रोताओं और दर्शकों से खचा खच भरे सभागृह में एक हीरे का सौदागर आता है और उसे देख सभी १० मिनट तक सीटी बजाते हैं,...