Tag : raat pashmine ki

Dil se Singer

दिन कुछ ऐसे गुजारता है कोई….. महफ़िल-ए-बेइख्तियार और "गुलज़ार"

Amit
महफ़िल-ए-ग़ज़ल #३६ दिशा जी की नाराज़गी को दूर करने के लिए लीजिए हम लेकर हाज़िर हैं उनकी पसंद की पहली गज़ल। इस गज़ल की खासियत...