Tag : old is gold

Uncategorized

इस स्वतंत्रता दिवस आईये नज़र डालें देश के हाल पर

Sajeev
1962 में बनी इस फिल्म के प्रस्तुत गीत में देश के उस वक्त के हाल का बखान था, पर वास्तव में देखा जाए तो आज...
Uncategorized

तारों की छांव में प्रीत की बायर

Sajeev
गोल्ड सीरिस – खरा सोना गीत ०६ टिम टिम टिम तारों के दीप जले…. स्वर  – लता, तलत शब्द – भरत व्यास संगीत – वसंत...
Uncategorized

फिर मिलेंगे यार दसविदानिया…. मगर दोस्तों याद रहे कभी अलविदा न कहना

Sajeev
इस दुनिया का एक बहुत बड़ा सत्य यह है कि जो शुरु होता है, वह एक न एक दिन ख़त्म भी होता है। यह दुनिया...
Uncategorized

खुशियाँ ही खुशियाँ हो….जीवन में आपके यही दुआ है ओल्ड इस गोल्ड टीम की

Sajeev
प्रेम किशन और श्यामली की आवाज़ बन कर येसुदास और बनश्री गीत का अधिकांश हिस्सा गाते हैं जबकि हेमलता रामेश्वरी की आवाज़ बन कर अन्तिम...
Uncategorized

प्यार ज़िन्दगी है….आईये आज की शाम समर्पित करें अपने अपने प्यार के नाम

Sajeev
फ़िल्म के प्रस्तुत गीत की बात करें तो यह गीत सिर्फ़ इस वजह से ही ख़ास बन जाता है कि इसमें लता और आशा, दोनों...
Uncategorized

जीना क्या अजी प्यार बिना ….जीवन में नहीं कुछ भी इसके सिवा दोस्तों

Sajeev
आशा भोसले, किशोर कुमार और साथियों की आवाज़ों में राहुल देव बर्मन की यह कम्पोज़िशन बनी थी मजरूह सुलतानपुरी के बोलों पर। १९८० की इस...
Uncategorized

उठे सबके कदम….चूमने जीवन की छोटी छोटी खुशियों को

Sajeev
इस गीत का फ़िल्मांकन देखने के बाद सही में यह सवाल मन में उभरता है कि क्या ज़िंदगी में ख़ुश रहने के लिए बहुत बड़ी-बड़ी...
Uncategorized

जीने के बहाने लाखों हैं, जीना तुझको आया ही नहीं….कभी सोचिये इस तरह भी

Sajeev
‘ख़ून भरी माँग’ १९८८ की राकेश रोशन की ब्लॉकबस्टर फ़िल्म थी जो एक ऑस्ट्रेलियन मिनि सीरीज़ ‘रिटर्ण टू ईडन’ (१९८३) से प्रेरीत थी। यह कहानी...
Uncategorized

आओ झूमें गायें, मिलके धूम मचायें….क्योंकि दोस्तों जश्न है ये ज़िदगी

Sajeev
किसी स्कूली छात्र को अगर “गाँव” शीर्षक पर निबन्ध लिखने को कहा जाये तो वह जिन जिन बातों का ज़िक्र करेगा, जिस तरह से गाँव...