Tag : lata sangeet parv

Dil se Singer

निंदिया से जागी बहार….और लता जी के पावन स्वरों से जागा संसार

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 760/2011/200 नमस्कार दोस्तों!! आज हम आ पहुंचे हैं लता जी पर आधारित श्रृंखला ‘मेरी आवाज ही पहचान है….’ की अंतिम...
Dil se Singer

मिला है किसी का झुमका….नटखट बोल शैलेन्द्र के और चहकती आवाज़ लता की

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 758/2011/198 ‘आवाज’ के सभी पाठकों और श्रोताओं को अमित तिवारी का नमस्कार. लता जी का कायल हर संगीतकार था. मदन...
Dil se Singer

रातों को जब नींद उड़ जाए….सलिल दा के संगीत की मासूमियत और लता

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 757/2011/197 नमस्कार साथियों, लता जी अपने आप में एक ऐसी किताब हैं जिसको जितना भी पढ़ो कम ही है. गाना...
Dil se Singer

कान्हा आन पड़ी मैं तेरे द्वार…..निर्गुण भक्ति और लता

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 756/2011/196 नमस्कार दोस्तों. आज हम आ पहुंचे हैं लता जी को समर्पित ‘मेरी आवाज ही पहचान है….’ श्रृंखला की सातवीं...
Dil se Singer

चंदा मामा आरे आवा…एक मधुर लोरी…अरे अरे सो मत जाईयेगा

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 756/2011/196 सुरों की मल्लिका लता मंगेशकर पर आधारित श्रंखला ‘मेरी आवाज ही पहचान है….’ की छठी कड़ी में मैं अमित...
Dil se Singer

आप यूँ फासलों से गुजरते रहे…रहस्य की वादियों में हुस्न की पुकार और लता

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 755/2011/195 लता जी के बारे में जितना लिखा जाये कम ही है. तो आज फिर से “मेरी आवाज ही पहचान...
Dil se Singer

ए दिले नादान, आरज़ू क्या है….इसके सिवा कि लता जी को मिले लंबी उम्र और उनकी आवाज़ का साया साथ चले हमेशा हमारे

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 754/2011/194 ‘ओल्ड इज गोल्ड’ के सभी पाठकों की तरफ से लता जी को जन्मदिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएँ. आज लता...
Dil se Singer

लता संगीत पर्व- महीने भर चला संगीत प्रेमियों का उत्सव

Amit
आवाज़ पर आयोजित लता संगीत उत्सव पर एक विशेष रिपोर्ट और सुनें लता जी के चुने हुए २० गीत एक साथ.जब हमने लता संगीत उत्सव...
Dil se Singer

प्रलय के बाद भी बचा रहेगा लता मंगेशकर का पावन स्वर !

Amit
लता मंगेशकर का जन्मदिन हर संगीतप्रेमी के लिये उल्लास का प्रसंग है. फ़िर हमारे प्रिय चिट्ठाकार संजय पटेल के लिये तो विशेष इसलिये है कि...
Dil se Singer

स्वर कोकिला लता मंगेशकर के लिये एक अदभुत कविता-तुम स्वर हो,स्वर का स्वर हो

Amit
माया गोविंद देश की जानी मानी काव्य हस्ताक्षर हैं.हिन्दी गीत परम्परा को मंच पर स्थापित करने में मायाजी ने करिश्माई रचनाएँ सिरजीं हैं.आवाज़ पर भाई...