Tag : k.l. sahgal

Dil se Singer

राग भैरवी : SWARGOSHTHI – 288 : RAG BHAIRAVI

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 288 में आज नौशाद के गीतों में राग-दर्शन – 1 : सहगल ने गाया यह गीत “जब दिल ही टूट गया, हम जी...
Dil se Singer

“मधुकर श्याम हमारे चोर…”, कैसे इस भजन ने सहगल और पृथ्वीराज कपूर के मनमुटाव को समाप्त किया?

PLAYBACK
एक गीत सौ कहानियाँ – 84  ‘मधुकर श्याम हमारे चोर…‘  रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी श्रोता-पाठकों को सुजॉय चटर्जी का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों, हम...
Dil se Singer

नौशाद के गीतों में राग-दर्शन : SWARGOSHTHI – 250 : RAG BASED SONGS BY NAUSHAD

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 250 में आज संगीत के शिखर पर – 11 : फिल्म संगीतकार नौशाद अली फिल्मों में रागदारी संगीत की सुगन्ध बिखेरने वाले अप्रतिम...
Dil se Singer

उस्ताद अब्दुल करीम खाँ की गायकी : SWARGOSHTHI – 243 : USTAD ABDUL KARIM KHAN

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 243 में आज संगीत के शिखर पर – 4 : उस्ताद अब्दुल करीम खाँ खाँ साहब सम्पूर्ण भारतीय संगीत के प्रतिनिधि संगीतज्ञ थे...
Dil se Singer

तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी – 05 – कानन देवी

PLAYBACK
तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी – 05  कानन देवी ’रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी दोस्तों को सुजॉय चटर्जी का सप्रेम नमस्कार। दोस्तों, किसी ने सच ही...
Dil se Singer

राग भूपाली और कल्याण में ध्रुपद गीत : SWARGOSHTHI – 204 : DHRUPAD BANDISH

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 204 में आज भारतीय संगीत शैलियों का परिचय : ध्रुपद – 2 गुण्डेचा बन्धुओं और सहगल से सुनिए ध्रुपद के निबद्ध गीत  ...
Dil se Singer

‘बाबुल मोरा नैहर छूटो जाय…’ : SWARGOSHTHI – 188 : THUMARI BHAIRAVI

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 188 में आज फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – 7 : ठुमरी भैरवी पण्डित भीमसेन और सहगल की आवाज़ में सुनिए...
Dil se Singer

‘पिया बिन नाहीं आवत चैन…’ : SWARGOSHTHI – 182 : THUMARI JHINJHOTI

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 182 में आज फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – 1 : ठुमरी झिंझोटी जब सहगल ने उस्ताद अब्दुल करीम खाँ की...
Dil se Singer

बसन्त ऋतु और राग बहार SWARGOSHTHI – 154

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – 154 में आज ऋतुराज बसन्त का अभिनन्दन राग बहार से ‘कलियन संग करता रंगरेलियाँ…’ ‘रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के मंच पर ‘स्वरगोष्ठी’ के एक...
Dil se Singer

पण्डित ओंकारनाथ ठाकुर के दिव्य स्वर में सूरदास का वात्सल्य भाव

कृष्णमोहन
  स्वरगोष्ठी – 150 में आज रागों में भक्तिरस – 18 कृष्ण की लौकिक बाललीला का अलौकिक चित्रण ‘मैया मोरी मैं नहीं माखन खायो…’ ‘रेडियो...