Tag : johrabai ambalewali

Dil se Singer

सावन के बादलों उनसे जा कहो…रिमझिम फुहारों के बीच विरह के दर्द में भींगे जोहरा बाई और करण दीवान के स्वर

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 702/2011/142 “ओश्रृंखला “उमड़ घुमड़ कर आई रे घटा” की दूसरी कड़ी में आपका पुनः स्वागत है| कल की कड़ी में...
Dil se Singer

क्या बताएँ कितनी हसरत दिल के अफ़साने में है…ज़ोहराबाई अम्बालेवाली की आवाज़ में एक और दमदार कव्वाली

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 472/2010/172 रमज़ान के पाक़ अवसर पर आपके इफ़्तार की शामों को और भी ख़ुशनुमा बनाने के लिए ‘आवाज़’ की ख़ास...
Dil se Singer

आहें ना भरी शिकवे ना किए और ना ही ज़ुबाँ से काम लिया….इफ्तार की शामों में रंग भरती एक शानदार कव्वाली

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 471/2010/171 ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ के सभी दोस्तों का फिर एक बार स्वागत है इस सुरीली महफ़िल में। दोस्तों, माह-ए-रमज़ान चल...
Dil se Singer

४०० एपिसोडों के लंबे सफर में ओल्ड इस गोल्ड ने याद किये कुछ ऐसे फनकारों को भी जिन्हें समय ने भुला ही दिया था

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड /रिवाइवल # २३ ४० के दशक की एक प्रमुख गायिका रहीं हैं ज़ोहराबाई अंबालेवाली। भले ही फ़िल्म संगीत का सुनेहरा दौर ५०...
Dil se Singer

उड़न खटोले पर उड़ जाऊं…..बचपन के प्यार को अभिव्यक्त करता एक खूबसूरत युगल गीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 391/2010/91 युगल गीतों की जब हम बात करते हैं, तो साधारणत: हमारा इशारा पुरुष-महिला युगल गीतों की तरफ़ ही होता...
Dil se Singer

अखियाँ मिलके जिया भरमा के चले नहीं जाना…जोहराबाई अंबालेवाली की आवाज़ थी जैसे कोई जादू

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 345/2010/45 १९४४ का साल फ़िल्म संगीत के इतिहास का एक और महत्वपूर्ण साल रहा, लेकिन इस साल की शुरुआत भारतीय...