Tag : jaidev

Dil se Singer

होली विशेष:: श्रीदेवी पर फ़िल्माया संभवत: एकमात्र होली गीत

PLAYBACK
होली विशेष: श्रीदेवी पर फ़िल्माया एकमात्र होली गीत “होली आयी रे, आयी रे, रंग बरसे..” ’रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ के सभी श्रोता-पाठकों को सुजॉय चटर्जी का...
Dil se Singer

बसन्त ऋतु की दस्तक और वाणी वन्दना

कृष्णमोहन
   स्वरगोष्ठी – 153 में आज पण्डित भीमसेन जोशी के स्वरों में ऋतुराज बसन्त का अभिनन्दन  ‘फगवा ब्रज देखन को चलो री…’ ‘रेडियो प्लेबैक इण्डिया’...
Dil se Singer

आपकी याद आती रही…."अलाव" में जलते दिल की कराह

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 718/2011/158 ‘एक पल की उम्र लेकर‘ – सजीव सारथी की लिखी कविताओं की इस शीर्षक से किताब में से चुनकर...
Dil se Singer

हौले हौले रस घोले….महान महदेवी वर्मा के शब्द और जयदेव का मधुर संगीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 528/2010/228 हिंदी साहित्य छायावादी विचारधारा के लिए जाना जाता है। छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में एक स्तंभ का...
Dil se Singer

नफ़रत की एक ही ठोकर ने यह क्या से क्या कर डाला…बालकवि बैरागी का रचा, जयदेव का स्वरबद्ध ये अमर गीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 524/2010/224 ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ के दोस्तों, नमस्कार और बहुत बहुत स्वागत है आप सभी का इस महफ़िल में। इन दिनों...
Dil se Singer

बदरा छाए रे, कारे कारे अरे मितवा…कभी कभी खराब फिल्मांकन अच्छे खासे गीत को ले डूबते हैं

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 515/2010/215 ‘ओल्ड इज़ गोल्ड’ के दोस्तों, नमस्कार! इन दिनों जारी है लघु शृंखला ‘गीत गड़बड़ी वाले’, और इसमें अब तक...
Dil se Singer

अल्लाह तेरो नाम ईश्वर तेरो नाम…..जब अल्लाह और ईश्वर एक हैं तो फिर बवाल है किस बात का, शांति का सन्देश देता लता जी का ये भजन

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 493/2010/193 आज २८ सितंबर, यानी सुरों की मल्लिका लता मंगेशकर का जन्मदिन। लता जी को उनके ८२-वें वर्षगांठ पर हम...
Dil se Singer

तमाम बड़े संगीतकारों के बीच रह कर भी जयदेव ने बनायीं अपनी खास जगह अपने खास अंदाज़ से

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड /रिवाइवल # ०८ आज ‘ओल्ड इज़ गोल्ड रिवाइवल’ में जयदेव का संगीत, साहिर लुधियानवी के बोल, फ़िल्म ‘हम दोनो’ का वही सदाबहार...
Dil se Singer

पीतल की मेरी गागरी….लोक संगीत और गाँव की मिटटी की महक से चहकता एक 'सखी सहेली' गीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 399/2010/99 कुछ आवाज़ें ऐसी होती हैं जिनमें इस मिट्टी की महक मौजूद होती हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो ऐसी...
Dil se Singer

आपकी याद आती रही…छाया गांगुली की आवाज़ और जयदेव का संगीत गूंजता रहा रात भर

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 375/2010/75 समानांतर सिनेमा की बात चल रही हो तो ऐसे में फ़िल्मकार मुज़फ़्फ़र अली का ज़िक्र करना बहुत ज़रूरी हो...