Tag : ghulam mohammad

Dil se Singer

ठाढ़े रहियो ओ बाँके यार…लोक-रस से अभिसिंचित ठुमरी

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 697/2011/137 ‘ओल्ड इज गोल्ड’ पर जारी श्रृंखला ‘रस के भरे तोरे नैन’ की सत्रहवीं कड़ी में समस्त ठुमरी-रसिकों का स्वागत...
Dil se Singer

नुक्ताचीं है ग़म-ए-दिल उसको सुनाये ना बने…ग़ालिब का कलाम और सुर्रैया की आवाज़

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 589/2010/289 “आह को चाहिये एक उम्र असर होने तक, कौन जीता है तेरी ज़ुल्फ़ के सर होने तक”। मिर्ज़ा ग़ालिब...
Dil se Singer

धडकते दिल की तम्मना हो मेरा प्यार हो तुम….कितने कम हुए है इतने मासूम और मुकम्मल गीत

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 588/2010/288 सुरैया के गाये सुमधुर गीतों से सजी लघु शृंखला ‘तेरा ख़याल दिल से भुलाया ना जाएगा’ की आठवीं कड़ी...
Dil se Singer

मौसम है आशिकाना, ये दिल कहीं से उनको ऐसे में ढूंढ लाना…आईये सज गयी है महफिल ओल्ड इस गोल्ड की

Sajeev
ओल्ड इस गोल्ड शृंखला # 251 दोस्तों, शरद तैलंग जी और स्वप्न मंजूषा शैल ‘अदा’ जी के बाद एक लम्बे इंतेज़ार के बाद हमें मिली...