Tag : filmon men thumri

Dil se Singer

नारी-कण्ठ पर सुशोभित ठुमरी : ‘रस के भरे तोरे नैन…’

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी-१०० में आज  फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – ११ ‘आ जा साँवरिया तोहे गरवा लगा लूँ, रस के भरे तोरे नैन…’  ‘स्वरगोष्ठी’...
Dil se Singer

स्वरगोष्ठी में आज : ठुमरी- ‘गोरी तोरे नैन काजर बिन कारे…’

कृष्णमोहन
‘रेडियो प्लेबैक इण्डिया’ की पहली वर्षगाँठ पर सभी पाठकों-श्रोताओं का हार्दिक अभिनन्दन    स्वरगोष्ठी-९८  में आज  फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी –९  श्रृंगार...
Dil se Singer

फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – ६

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – ९५ में आज श्रृंगार रस से अभिसिंचित ठुमरी- ‘बाजूबन्द खुल खुल जाय…’ ‘स्वरगोष्ठी’ पर जारी लघु श्रृंखला ‘फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक...
Dil se Singer

फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – ५

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – ९४ में आज ‘कौन गली गयो श्याम…’ : श्रृंगार और भक्ति का अनूठा समागम ‘स्वरगोष्ठी’ पर जारी लघु श्रृंखला ‘फिल्मों के आँगन में...
Dil se Singer

फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – ४

कृष्णमोहन
      स्वरगोष्ठी – ९३ में आज रसूलन बाई, जद्दन बाई और मन्ना डे के स्वरों में एक ठुमरी ‘फूलगेंदवा न मारो लगत करेजवा में...
Dil se Singer

फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – ३

कृष्णमोहन
स्वरगोष्ठी – ९२ में आज  मन्ना डे ने गाया उस्ताद फ़ैयाज़ खाँ का दादरा ‘बनाओ बतियाँ चलो काहे को झूठी…’  ‘स्वरगोष्ठी’ पर जारी लघु श्रृंखला...
Dil se Singer

फिल्मों के आँगन में ठुमकती पारम्परिक ठुमरी – २

कृष्णमोहन
    स्वरगोष्ठी – ९१ में आज  बेगम अख्तर की ९९वें जन्मदिवस पर स्वरांजलि ‘भर भर आईं मोरी अँखियाँ पिया बिन…’ रस, रंग और भाव की...