Category : Philosophy

Philosophy

क्या आपने पृथ्वी पर रहने का किराया दिया है ?

Sajeev Sarathie
“कोई जगह तो है मेरे सपनों के लिए , वो घरौंदा ही सही मिट्टी का भी घर होता है” दुष्यंत त्यागी जी की यह पंक्तियाँ...
Philosophy

लौटाएं प्यार और सम्मान माता पिता को

Sajeev Sarathie
माता पिता को ईश्वर का रूप माना जाता है, जिन हाथों ने उंगली पकड़ हमें चलना सिखाया, जिन हाथों ने प्यार से निवाला खिलाया, अब...