Category : एक गीत सौ अफ़साने

एक गीत सौ अफ़साने

छुटे असीर तो बदला हुआ जमाना था | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 1935 की मशहूर फ़िल्म ’देवदास’ की ग़ज़ल “छुटे असीर तो बदला हुआ ज़माना था”। पहाड़ी सान्याल की आवाज़, किदार शर्मा के बोल और तिमिर...
Music एक गीत सौ अफ़साने

हरे कांच की चूड़ियां | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
2010 की इस फ़िल्म में चूड़ियों पर बनने वाला हिमेश रेशम्मिया के शुरुआती दौर का वही स्टाइल फिर से कैसे सुनाई दिया? किन कारणों से...
एक गीत सौ अफ़साने

ये लो जी सनम हम आ गए | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
आज के अंक के लिए हमने चुना है वर्ष 1994 की चर्चित फ़िल्म ’अन्दाज़ अपना अपना’ का गीत “एलो जी सनम हम आ गए, आज...
एक गीत सौ अफ़साने

तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 1981 की चर्चित फ़िल्म ’एक दूजे के लिए’ का गीत “तेरे मेरे बीच में, कैसा है ये बन्धन अनजाना”। गीत के दो संस्करण हैं,...
एक गीत सौ अफ़साने

कभी तन्हाइयों में यूं : एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 1961 की फ़िल्म ’हमारी याद आयेगी’ का शीर्षक गीत “कभी तन्हाइयों में यूं, हमारी याद आयेगी”। मुबारक बेगम की आवाज़, किदार शर्मा के बोल...
एक गीत सौ अफ़साने

ओ रे परिंदे : एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 2022 की फ़िल्म ’अन्य’ का गीत “ओ रे परिन्दे”। सलमान अली और उर्मिला वर्मा की आवाज़ें, सजीव सारथी का गीत, और रामनाथ का संगीत।...
एक गीत सौ अफ़साने

बिन तेरे सनम : कहानी एक रोमांटिक गीत की

Sajeev Sarathie
वर्ष 1991 की चर्चित फ़िल्म ’यारा दिलदारा’ का गीत “बिन तेरे सनम मर मिटेंगे हम”। उदित नारायण और कविता कृष्णमूर्ति की आवाज़ें, मजरूह सुल्तानपुरी के...
एक गीत सौ अफ़साने

पानी दा रंग : कैसे जन्म आयुष्मान खुराना का ये गीत

Sajeev Sarathie
वर्ष 2012 की चर्चित फ़िल्म ’विक्की डोनर’ का गीत “पानी दा रंग वेख के”। आयुष्मान खुराना की आवाज़, तथा आयुष्मान खुराना और रोचक कोहली का...
एक गीत सौ अफ़साने

तेरे लिए हम हैं जिए | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 2004 की चर्चित फ़िल्म ’वीर ज़ारा’ का गीत “तेरे लिए हम हैं जीये”। लता मंगेशकर और रूप कुमार राठौड़ की आवाज़ें, जावेद अख़्तर के...
एक गीत सौ अफ़साने

ज़िंदगी जब भी तेरी बज़्म में | एक गीत सौ अफसाने

Sajeev Sarathie
वर्ष 1981 की चर्चित फ़िल्म ’उमराव जान’ की ग़ज़ल “ज़िन्दगी जब भी तेरी बज़्म में लाती है हमें”। तलत अज़ीज़ की आवाज़, शहरयार के बोल,...