Tag : sukanth

Uncategorized

चले जाना कि रात अभी बाकी है…

Amit
दूसरे सत्र के आठवें गीत का विश्वव्यापी उदघाटन आज आठवीं पेशकश के रूप में हाज़िर है सत्र की दूसरी ग़ज़ल, “पहला सुर” में “ये ज़रूरी...