Tag : rashtrakavi

Uncategorized

रामधारी सिंह दिनकर की कविता गाइए और संगीतबद्ध कीजिए और जीतिए रु 7000 के नग़द इनाम

Amit
गीतकास्ट प्रतियोगिता की ‘राष्ट्रकवि-शृंखला’ सर्वप्रथम सभी पाठकों/श्रोताओं को हिन्दी-दिवस की बधाइयाँ। आज इस विशेष मौके पर हम गीतकास्ट प्रतियोगिता में एक नई शृंखला की शरूआत...
Uncategorized

सुनिए 'हाहाकार' और 'बालिका से वधू'

Amit
सूखी रोटी खायेगा जब कृषक खेत में धरकर हल,तब दूँगी मैं तृप्ति उसे बनकर लोटे का गंगाजल।उसके तन का दिव्य स्वेदकण बनकर गिरती जाऊँगी,और खेत...