Uncategorized

हिस्सा बनिए आवाज़ पर " लता संगीत पर्व " का और जीतिए इनाम

दोस्तो,

लता दी

इस माह की 28 तारीख को हम सब की प्रिय गायिका लता मंगेशकर यानी लता दी, अपना 79वां जन्मदिन मनायेंगी. चूँकि लता दी हिन्दी फ़िल्म संगीत जगत की इतनी बड़ी शख्सियत हैं कि मात्र एक दिन का समय काफ़ी नहीं होगा, उनके अपार गीतों के संग्रह का जिक्र करने के लिए, इसलिए आवाज़ की टीम ने तय किया है कि हम महीने भर का “लता संगीत पर्व” मनाएंगे. जिसमें लता दी के संगीत दीवानों के लिए एक नायाब प्रतियोगिता हम आयोजित करने जा रहे हैं. कोई भी व्यक्ति इस प्रतियोगिता में भाग ले सकता है, करना सिर्फ़ इतना है, कि लता दी का कोई एक गीत आपको चुनना होगा, और उस गीत से सम्बंधित तमाम जानकारियों पर 300 से 400 शब्दों का एक आलेख लिखना होगा. जिसमे उस गीत से जुड़ी हुई कोई अनूठी बात, उस गीत को कोई ख़ास विशेषता जिसके कारण वो गीत आपको इतना अधिक पसंद है, उस गीत से जुड़े अन्य कलाकारों के नाम और गीत के बोल आदि शामिल होंगे. सबसे बढ़िया तरीके से प्रस्तुत पहले 3 आलेखों को क्रमशः 500, 300 और 200 रुपए की पुस्तकें मसि कागद की तरफ़ से और 10 अन्य आलेखों को आवाज़ की तरफ़ से “पहला सुर” एल्बम की एक एक प्रति भेंट की जायेगी.

शर्तें –

1. आलेख हिन्दी में लिखा होना चाहिए, हिन्दी में लिखने के लिए आप इस लिंक का इस्तेमाल कर सकते हैं, किसी भी सहायता के लिए आप hindyugm@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं.

2. प्रवाष्ठियाँ podcast.hindyugm@gmail.com पर भेजें.

3. प्रवष्टि भेजनी की अन्तिम तारीख 15 सितम्बर 2008 है.

4. परिणामों की घोषणा 28 तारीख, लता दी के जन्मदिवस पर की जायेगी.

5. एक मेल खाते से एक ही प्रवष्टि भेजी जा सकती है.

6. आप यदि अपनी तस्वीर व अन्य कोई जानकारी अपने बारे में प्रकाशित करना चाहें तो साथ में संलग्न कर भेज सकते हैं.

तो देर किस बात की, लिख डालिए लता दी के अपने पसंदीदा गीत पर एक आलेख और इस लता संगीत पर्व में शामिल होकर उस महान गायिका तक पहुंचाइये अपने दिल की बात जिसके गीतों ने आपके जीवन को कई मधुर और सुरीले लम्हें दिए हैं.

हमारी कोशिश रहेगी की इस माह हम लता दी का एक्सक्लूसिव संदेश (आवाज़ के नाम) आप तक पहुंचायें, इसके आलावा पंकज सुबीर आपके लिए लायेंगे लता दी के कुछ अनमोल नगमें और बातें, और संजय पटेल अपने ख़ास अंदाज़ में बताएँगे लता दी की कुछ अनसुनी बातें.

आप यदि लता का कोई विशेष गीत सुनना चाह रहे हैं, जिसे आप काफ़ी अर्से से सुन नहीं पाये हैं, ऑनलाइन कहीं मिल नहीं पा रहा है तो कृपया कमेंट में आप अपना अनुरोध भेज दें, आवाज़ के पाठक, श्रोता और कर्ता-धर्ता अगले २४ घण्टों के भीतर आवाज़ पर उसे उपलब्ध कराने की कोशिश करेंगे।

लता दी का कोई गीत यदि आप बहुत बढ़िया गाती हैं, और आपको लगता है कि आपके गायकी में है ज़ादू तो उसे भी रिकॉर्ड कर हमें भेजिए, २८ सित्मबर को हम चुने हुए सर्वश्रेष्ठ गीत को प्रसारित करेंगे। इस सब के अलावा और भी बहुत कुछ होगा, जिससे रोशन होगा आवाज़ पर – लता संगीत पर्व.

Related posts

जुलाई का पॉडकास्ट कवि सम्मेलन और बारिश की फुहारें

Amit

वो जब याद आए बहुत याद आए…

Amit

आंसू भरी है ये जीवन की राहें… कोई उनसे कह दे हमें भूल जाए…

Sajeev