Literature Poetry

राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की जन्म जयंती पर विशेष 1

https://open.spotify.com/episode/6Mty3cinbExtRiWeGowDfp?si=t-mxEN_tQemQ5gy-WoR4_A&utm_source=copy-link

Part 01

रामधारी सिंह दिनकर का साहित्य – भाग 1
रामधारी सिंह दिनकर ऐसे कवियों में से एक हैं जिनकी कविताएं किसी अनपढ़ किसान को भी उतनी ही पसंद है जितनी कि उन पर रिसर्च करने वाले स्कॉलर को.
दिनकर की कविता इस समय भी उतनी ही प्रासंगिक मालूम होती है, जितनी कि उस दौर में जब वह लिखी गई थी. समय भले ही बदल गया हो लेकिन परिस्थितियां अभी भी वैसी ही हैं. दिनकर का जन्म 23 सितंबर 1908 को आज के बिहार राज्य में पड़ने वाले बेगूसराय जिले के सिमरिया ग्राम में हुआ था. उनकी प्रसिद्ध रचनाएं उर्वशी, रश्मिरथी, रेणुका, संस्कृति के चार अध्याय, हुंकार, सामधेनी, नीम के पत्ते हैं. उनकी मृत्यु 24 अप्रैल 1974 को हुई थी.
Speakers
Pragya Mishra, Mumbai
Sharad Kokas, Durg
Speakers: Pragya Mishra, Sharad Kokas

https://open.spotify.com/episode/1H3QQWdt2JLjtrcpUn8Y7S?si=nF-75JU-TBC5pvZe4m5QUg&utm_source=copy-link

Part 02

रामधारी सिंह दिनकर की कविताओं में राष्ट्रीय चेतना पर सुनिए चर्चा

Speaker:

प्रज्ञा मिश्र

शरद कोकास

Related posts

पुष्प या फूल शब्द का संसार, शब्द संसार में

Sajeev Sarathie

कोस कोस की बाणी कविता में

Sajeev Sarathie

मिलिए पल्लवी विनोद के काव्य संसार से

Sajeev Sarathie

Leave a Comment