एक गीत सौ अफ़साने

Ye Kahan Aa Gaye Hum | Ek Geet Sau Afsane

वर्ष 1981 की मशहूर फ़िल्म ’सिलसिला’ का गीत “ये कहाँ आ गए हम यूंही साथ-साथ चलते”। लता मंगेशकर और अमिताभ बच्चन की आवाज़ें, जावेद अख़्तर के बोल, और शिव-हरि का संगीत। जानिए इस गीत के बनने की दिलचस्प कहानी स्वयम पंडित शिव कुमार शर्मा के शब्दों में। जावेद अख़तर ने शुरू में फ़िल्म में गीत लिखने से यश चोपड़ा को क्यों मना कर दिया था? और फिर मुंह में ख़ून लगने की बात क्यों की? फ़िल्म ’सिलसिला’ के बनने के अगले साल इसी गीत के जैसा कौन सा गीत बना और इस गीत के साथ उसका क्या रिश्ता था? जानिए ये सब, आज के अंक में।

Related posts

।। घूँघट की आड़ से दिलबर का।।

cgswar

क़स्मे, वादे, प्यार, वफ़ा, सब बातें हैं…..”गीत को बनाते हुए एक मकाम पे जाकर सबके रोंगटे क्यों खडे हो गए?

cgswar

“ससुराल गेंदा फूल…”

cgswar

Leave a Comment