Shatdal Radio

Khusro Dariya Prem Ka | Shatdalradio

अबुल हसन यमीनुद्दीन अमीर ख़ुसरो चौदहवीं सदी के लगभग दिल्ली के निकट रहने वाले एक प्रमुख कवि, शायर, गायक और संगीतकार थे। आज के एपिसोड में सुनिए खुसरो के जीवन दर्शन और भारत की मिट्टी से उठती सोंधी सुगंध सी मिली जुली संस्कृति में गढ़ी उनकी रचनाओं को।Speakers: Pragya Mishra, Shormi Saha, Sharad Kokas, Anupam Chitkara, DrVasudha Mishra.

Related posts

अज्ञेय रचनावली

Sajeev Sarathie

बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे | फैज़

Sajeev Sarathie

अज्ञेय रचनावली: कुछ और पहलू

Sajeev Sarathie

Leave a Comment