काव्य तरंग

हमसफर याद आया ।। गज़ल

इनकी कलम में दिखती है एक सच्चाई तो इनकी आवाज़ में एक अद्भुत सी खनक, सुनिए गुंजन नागर जिन्हें हम सब शायर बकर के नाम से जानते है, से उन्हीं का कलाम उन्हीं की ज़ुबानी… #ShayarBakar #HunsafarYaadAaya

Spotify और #spotifypodcast के साथ साथ #GaanaPodcast, #amazonmusic #jiosaavnpodcasts #googlepodcasts #itunespodcast और #applepodcast पर भी उपलब्ध

Related posts

शब्दों में संसार || कविता

Sajeev Sarathie

काव्य तरंग // सुनीता यादव // ओपन माइक – बूँद अशरीर

Amit

Shaam E Shayari with Manuj Mehta | Full Recording

Sajeev Sarathie

Leave a Comment