काव्य तरंग

काव्य तरंग // पूजा अनिल // ओपन माइक – नदी बहती हो क्यों

काव्य तरंग 
रेडियो प्लेबैक इंडिया की प्रस्तुति ‘ नदी बहती हो क्यों ‘
काव्य तरंग के दूसरे सीजन की थीम है ‘नदी’। इस महीने में आप अलग अलग आवाज़ों में नदी पर आधारित कविताओं का आनंद  उठा सकेंगे।

उदयपुर की बरसाती नदियों से अठखेलियां करते हुए पेरिस की  सीन नदी तक की सैर करवा रही हैं पूजा अनिल। 

आवाज़, कविता तथा आलेख – पूजा अनिल 
तकनीकी सहायता  – अमित तिवारी 
आर्ट वर्क – मनुज मेहता, अमित तिवारी
आप हमारे इस पॉडकास्ट को इन पॉडकास्ट साईटस पर भी सुन सकते हैं 

हम से जुड़ सकते हैं –
Hope you like this initiative, give us your feedback on radioplaybackdotin@gmail.com

Related posts

The Sachhe Sardar | Poem

Sajeev Sarathie

Adhikaar Jagane Aaya Hoon | Kavita

Sajeev Sarathie

आओ आगे बढ़ें ।। कविता

Sajeev Sarathie

Leave a Comment