एक मुलाक़ात ज़रूरी है

एक मुलाकात जरूरी है || एपिसोड 07 || गीतकार महबूब (भाग 02) || खुदा मेरे महबूब को महबूबे आलम बना दे

मिलिये अज़ीम गीतकार महबूब से जिन्होंने बॉलीवुड की कई सफल फिल्मों में एक से बढ़कर एक गीत लिखे हैं, आज इस लंबे साक्षात्कार के दूसरे हिस्से में सुनिए कि कैसे बने हम दिल दे चुके सनम के सदाबहार गीत। कैसे निर्देशक संजय लीला बंसाली अपने गीतकार संगीतकारों को प्रेरित किया करते थे उनका सर्वोथम काम निकालने में, कैसा रहा उनका अनुभव इंडस्ट्री के दिग्गज निर्देशकों के साथ करने के, गायक केके के साथ उनकी अल्बम पल पर काम करना क्यों उनके लिए एक अलग तरह का अनुभव रहा, 

Through this Podcast Series, we broadcast interviews of the artists from film, music and literature world, it will help listeners to know better about their favorite personalities from the world of entertainment and literature, conducted by Sajeev Sarathie
आप हमारे इस पॉडकास्ट को इन पॉडकास्ट साईटस पर भी सुन सकते हैं 
हम से जुड़ सकते हैं –
To Join the Ek Mulkaat Zaroori Hai  team, please write to sajeevsarathie@gmail.com 
Hope you like this initiative, give us your feedback on radioplaybackdotin@gmail.com

Related posts

Shammi Narang | Ek Mulakaat | Sangya Tandon

Sajeev Sarathie

सुरों के सात रंग अभिजीत और मंजीरा संग || Abhijit Ghoshal|| Manjeera Ganguly || Sajeev Sarathie || World Music Day

Sajeev

Laxmikant Pyarelal : Music Forever | Ajay Poundarik | Sajeev Sarathie | Kuhoo Gupta | Rafique Shaikh | Susheel P | Hricha Debraj

Sajeev

Leave a Comment