Dil se Singer

ऑडियो: साइकिल चोर (कान्ता राॅय)

इस लोकप्रिय स्तम्भ “बोलती कहानियाँ” के अंतर्गत हम हर सप्ताह आपको सुनवाते रहे हैं प्रसिद्ध कहानियाँ। पिछली बार आपने स्पेन से पूजा अनिल के स्वर में के स्वर में सुधीर द्विवेदी की लघुकथा  “एक बार फिर” का वाचन सुना था।

आज हम आपकी सेवा में प्रस्तुत कर रहे हैं कांता रॉय की लघुकथा ‘साइकिल चोर, शीतल माहेश्वरी के स्वर में।

प्रस्तुत लघुकथा का गद्य “सेतु पत्रिका” पर उपलब्ध है। “साइकिल चोर” का कुल प्रसारण समय 2 मिनट 2 सेकंड है। सुनिए और बताइये कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो अधिक जानकारी के लिए कृपया admin@radioplaybackindia.com पर सम्पर्क करें।



कान्ता राॅय: हिंदी लेखिका संघ मध्यप्रदेश, अखिल भारतीय साहित्य परिषद, मध्यप्रदेश लेखक संघ , कलामंदिर भोपाल, विश्व मैत्री संघ मुंबई. सेवाभारती, आनंद आश्रम भोपाल की आजीवन सदस्य, राष्ट्रभाषा प्रचार समिति की सम्मानित सदस्य।


वाचिका: शीतल माहेश्वरी – पुणे निवासी शीतल माहेश्वरी ने चाइल्ड एजुकेशन में डिप्लोमा किया है। पढ़ने ओर लिखने में रूचि के साथ-साथ चित्रकारी का भी शौक है।


हर सप्ताह यहीं पर सुनें एक नयी हिन्दी कहानी


“हाँ, शायद वही है।” चश्मे को ठीक करते हुए आँख चुराकर उसने जबाव दिया।
 (कान्ता राॅय कृत ‘साइकिल चोर’ से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें.


(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)
यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
साइकिल चोर MP3


#Seventeenth Story, Cycle Chor Kanta Roy; Hindi Audio Book/2018/17. Voice: Sheetal Maheshwari

Related posts

ख्यालों में किसी के….रोशन और राज कपूर एक साथ आये इस मशहूर गीत में

Sajeev

राग मीरा अथवा मीराबाई की मल्हार : SWARGOSHTHI – 474 : RAG MIRA OR MIRABAI KI MALHAR

कृष्णमोहन

ऑडियो: रंग (मनु बेतख़ल्लुस) – पूजा अनिल के स्वर में

Smart Indian

6 comments

LAGHUKATHA VRITT - RNI- MPHIN/2018/77276 August 28, 2018 at 2:25 pm

अपनी लिखी लघुकथा का वाचन सुनना अच्छा लगा| शीतल जी की जादुई आवाज घटनाक्रम को सुनाते हुए साक्षात् घटित होने का बोध करा गयी| आभार रडियो प्लेबैक इंडिया का दिल से|

Reply
Unknown August 28, 2018 at 3:32 pm

बहुत बढ़िया रचना

Reply
Anonymous August 28, 2018 at 5:21 pm

बहुत सुंदर प्रस्तुति सखी

Reply
Unknown August 28, 2018 at 5:22 pm

Very nice sincere and heart touching effort Sheetal Didi.

Reply
अनीता मिश्रा सिद्धि। August 28, 2018 at 6:16 pm

वाहः बहुत अच्छा लगा कथा भी आवाज भी

Reply
Satvinder Kumar Rana 'baal' August 29, 2018 at 3:06 pm

साईकिल चोर को कई बार पढ़ चुका हूँ। सुनकर और भी अच्छी लगी।

Reply

Leave a Comment