Dil se Singer

गीत अतीत 30 || हर गीत की एक कहानी होती है || बावली बूच || लाल रंग || दुष्यंत || रणदीप हूडा

Geet Ateet 30
Har Geet Kii Ek Kahaani Hoti Hai…
Bawali Booch
Laal Rang
Dushyant
Also featuring Mathias Duplessy & Vikas Kumar


जो पहला ड्राफ्ट मैंने लिखा था, उसमें बावली बूच  शब्द नहीं था ” –    दुष्यंत 

रणदीप हूडा अभिनीत फिल्म लाल रंग पिछले साल प्रदर्शित हुई थी और अपने अलग विषय चयन के लिए काफी चर्चित हुई थी, फिल्म का एक गीत ‘बावली बूच’ श्रोताओं को खूब पसंद आया था, आज गीत अतीत पर इस गीत के गीतकार दुष्यंत हैं हमारे साथ इस गीत की कहानी लेकर. दोस्तों ये गीत अतीत के इस पहले सीसन का अंतिम एपिसोड है, उम्मीद है ३० गीतों की ३० दिलचस्प कहानियों का आपने भरपूर आनंद लिया होगा… लीजिये आज के अंतिम एपिसोड में सुनिए, कहानी बावली बूच की, गीतकार दुष्यंत की जुबानी….प्ले पर क्लिक करें और सुनें….

डाउनलोड कर के सुनें यहाँ से….

सुनिए इन गीतों की कहानियां भी –

हौले हौले (गैर फ़िल्मी सिंगल)
कागज़ सी है ज़िन्दगी (जीना इसी का नाम है) 
बेखुद (गैर फ़िल्मी सिंगल)
इतना तुम्हें (मशीन) 
आ गया हीरो (आ गया हीरो)
ये मैकदा (गैर फ़िल्मी ग़ज़ल)
पूरी कायनात (पूर्णा)
दम दम (फिल्लौरी)
धीमी (ट्रैपड) 
कारे कारे बदरा (ब्लू माउंटेन्स)
रेज़ा रेज़ा (सलाम मुंबई)

रिश्ता (लाली की शादी में लड्डू दीवाना)
जियो रे बाहुबली (बाहुबली 2 द कांकलूशन)
ओ रे कहारों (बेगम जान)
लॉस्ट विथआउट यू (हाफ गर्लफ्रेंड)  
जाने क्या हो
इश्क ने ऐसा शंख बजाया (लव यू फैमिली)
बुरी बुरी (डिअर माया)
बनजारा (मॉम) 
कहना ही क्या (बोम्बे) 
तेरी ज़मीन (राग देश)
चदता सूरज (इंदु सरकार)
बखेड़ा /हंस मत पगली (टॉयलेट एक प्रेम कथा )
बर्फानी (बबुमोशाय बन्दूकबाज़)

Related posts

पॉडकास्ट पर संगीतबद्ध गीतों, कवि-सम्मेलनों, बालोपयोगी सामग्रियों और कहानियों का प्रसारण

Amit

मैं शायर बदनाम, महफिल से नाकाम

Amit

TST की सिकंदर बनी सीमा जी की पसंद के गीतों के संग उतरिये आज नव वर्ष के स्वागत जश्न में

Sajeev

Leave a Comment