Dil se Singer

रबीन्द्र नाथ ठाकुर की कहानी भिखारिन

‘सुनो कहानी’ इस स्तम्भ के अंतर्गत हम आपको सुनवा रहे हैं प्रसिद्ध कहानियाँ। पिछले सप्ताह आपने अर्चना चावजी की आवाज़ में हिंदी साहित्यकार प्रेमचंद की कहानी “बड़े भाई साहब” का पॉडकास्ट सुना था। आज हम आपकी सेवा में प्रस्तुत कर रहे हैं रबीन्द्र नाथ ठाकुर की एक कहानी “भिखारिन“, जिसको स्वर दिया है अर्चना चावजी ने।

कहानी का कुल प्रसारण समय 16 मिनट 12 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो अधिक जानकारी के लिए कृपया admin@radioplaybackindia.com पर सम्पर्क करें।


 पक्षी समझते हैं कि मछलियों को पानी से ऊपर उठाकर वे उनपर उपकार करते हैं।
 ~ रबीन्द्र नाथ ठाकुर (1861-1941)


 हर सप्ताह यहाँ सुनें एक नयी कहानी


 उसके पास काफ़ी रुपये हो गये थे।
 (रबीन्द्र नाथ ठाकुर की “भिखारिन” से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें।
(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)

यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
VBR MP3


#Ninth Story, Bhikharin: Rabindra Nath Tagore/Hindi Audio Book/2017/9. Voice: Archana Chaoji

Related posts

स्वरगोष्ठी में आज : राग भूपाली के दो रंग

कृष्णमोहन

अल्बम – संगीत दिलों का उत्सव है

Sajeev

हाँ दीवाना हूँ मैं…माना था मुकेश ने सरदार मलिक के निर्देशन में

Sajeev

2 comments

Archana Chaoji June 6, 2017 at 4:52 am

सादर धन्यवाद

Reply
Smart Indian June 6, 2017 at 11:08 pm

मार्मिक कथा का हृदयस्पर्शी वाचन!

Reply

Leave a Comment