Dil se Singer

प्रेमचंद की ‘बड़े भाई साहब’ ऑडियो

लोकप्रिय स्तम्भ “बोलती कहानियाँ” के अंतर्गत हम हर सप्ताह आपको सुनवाते रहे हैं नई, पुरानी, अनजान, प्रसिद्ध, मौलिक और अनूदित, यानि के हर प्रकार की कहानियाँ। इस शृंखला में पिछली बार आपने पूजा अनिल के स्वर में  प्रमिला वर्मा की लघुकथा कारा मत नापो मिन्नी का वाचन सुना था।

आज हम आपकी सेवा में प्रस्तुत कर रहे हैं प्रेमचंद की कहानी बड़े भाई साहब, जिसे स्वर दिया है अर्चना चावजी ने।

प्रस्तुत अंश का कुल प्रसारण समय 24 मिनट 50 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो अधिक जानकारी के लिए कृपया admin@radioplaybackindia.com पर सम्पर्क करें।


मुंशी प्रेमचंद हिंदी और उर्दू के प्राख्यात कथाकार हैं।

मैं एक निर्धन अध्यापक हूँ… मेरे जीवन मैं ऐसा क्या ख़ास है जो मैं किसी से कहूं
~ मुंशी प्रेमचंद (१८८०-१९३६)


हर सप्ताह सुनिए हिन्दी में एक नयी कहानी


मेरा जी पढने में बिलकुल न लगता था। एक घंटा भी किताब लेकर बैठना पहाड़ था।
(प्रेमचंद की ‘बड़े भाई साहब’ से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें.


(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)
यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
बड़े भाई साहब MP3


#Eighth Story, Bade Bhai Sahab; Premchand; Hindi Audio Book/2017/8. Voice: Archana Chaoji

Related posts

सुनिए बाल-कविता 'गिलहरी का घर'

Amit

राग जयन्त मल्हार : SWARGOSHTHI – 331 : RAG JAYANT MALHAR

कृष्णमोहन

रविवार सुबह की कॉफी और अमिताभ बच्चन की पसंद के गीत (२०)

Sajeev

2 comments

Madhavi Ganpule May 25, 2017 at 3:07 am

Archanaji, Namaskar _/_ Enjoyed the way you have presented this nice story

Reply
Archana Chaoji May 30, 2017 at 2:11 pm

Dhanyawaad

Reply

Leave a Comment