Dil se Singer

मोहब्बत की कहानी आँसूओं में पल रही है.. सज्जाद अली ने शहद-घुली आवाज़ में थोड़ा-सा दर्द भी घोल दिया है

महफ़िल ए कहकशाँ 16




सज्जाद अली 

दोस्तों सुजोय और विश्व दीपक द्वारा संचालित “कहकशां” और “महफिले ग़ज़ल” का ऑडियो स्वरुप लेकर हम हाज़िर हैं, “महफिल ए कहकशां” के रूप में पूजा अनिल और रीतेश खरे  के साथ।  अदब और शायरी की इस महफ़िल में आज पेश है पाकिस्तानी गायक सज्जाद अली की आवाज़ में एक नज़्म| 







मुख्य स्वर – पूजा अनिल एवं रीतेश खरे 
स्क्रिप्ट – विश्व दीपक एवं सुजॉय चटर्जी




Related posts

10 सेगमेण्ट्स – 100 एपिसोड्स – 43 प्रतियोगी – ‘सिने पहेली’ का सफ़र अपने अंजाम की तरफ़…

PLAYBACK

सुनिए हरिवंश राय बच्चन की बाल कविता 'रेल'

Amit

राग ललित और बसन्त में खयाल : SWARGOSHTHI – 207 : KHAYAL RECITAL

कृष्णमोहन

Leave a Comment