Dil se Singer

11 बार जीतने के बाद ‘ज़ी सारेगामापा’ छोड़ने का निर्णय मेरा व्यक्तिगत था – अभिजित घोषाल :एक मुलाकात ज़रूरी है

एक मुलाकात ज़रूरी है (23)

जी सा रे गा मा पा में इतिहास रचने के बाद शंकर एहसान लॉय की तिकड़ी के साथ फ़िल्मी पार्श्वगायन की शुरुआत करने वाले गायक अभिजित घोषाल,अपने खुद के संगीत समूह के साथ मिलकर लगातार कुछ अर्थपूर्ण सार्थक गीतों को रचने में सक्रिय हैं, अभी हाल ही में उन्होंने “मेरी प्यारी गुडिया” गीत के साथ “बेटी बचाओ बेटी पढाओ” अभियान का समर्थन करने की सुन्दर कोशिश की है, मिलिए आज के एपिसोड में इस नायाब गायक से, और जानिए उनके संगीत सफ़र से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से…

एक मुलाकात ज़रूरी है इस एपिसोड को आप यहाँ से डाउनलोड करके भी सुन सकते हैं, लिंक पर राईट क्लीक करें और सेव एस का विकल्प चुनें 

Related posts

गीत अतीत || सीसन 01 || 30 एपिसोड्स

Sajeev

‘भयभंजना वन्दना सुन हमारी…’ : राग मियाँ की मल्हार में भक्तिरस

कृष्णमोहन

राग मियाँ की मल्हार : SWARGOSHTHI – 470 : RAG MIYAN KI MALHAR

कृष्णमोहन

Leave a Comment