Dil se Singer

“मेरी बदकिस्मती रही कि मैं पंचम के साथ कभी काम नहीं कर पाया” – अमित खन्ना (पार्ट 01) :एक मुलाकात ज़रूरी है

एक मुलाकात ज़रूरी है (19)

Amit Khanna 

भारतीय सिने जगत के एक लीजेंड हैं अमित खन्ना, फिल्म लेखन, निर्माण, निर्देशन, संगीत, टेलिविज़न, साहित्य, शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र हो फिल्म निर्माण से जुड़ा जिसमें अमित जी का उल्लेखनीय दखल न हो. आज के हमारे कार्यक्रम में हमारे मेहमान हैं, अमित खन्ना जी, जो आपके लिए लेकर आये हैं उनके लिखे कुछ चुनिदा गीतों का नजराना, साथ ही सुनें उन गीतों से जुड़े कुछ खट्टे मीठे अनुभव, जानिए क्यों अमित जी कभी पंचम के साथ काम नहीं कर पाए, और जानिये कि देव साहब का दिया वो कौन सा अमूल्य मंत्र है जिसमें अमित जी को हमेशा ही जवान बनाये रखा है.

एक मुलाकात ज़रूरी है इस एपिसोड को आप यहाँ से डाउनलोड करके भी सुन सकते हैं, लिंक पर राईट क्लीक करें और सेव एस का विकल्प चुनें 

Related posts

‘कान्हा रे नन्दनन्दन…’ : राग केदार में एक प्रार्थना गीत

कृष्णमोहन

कान्हा आन पड़ी मैं तेरे द्वार…..निर्गुण भक्ति और लता

Sajeev

पिया मेहंदी लियादा मोती झील से…जाके सायिकील से न…

Amit

Leave a Comment