Dil se Singer

महफ़िल ए कहकशां – 2 रंग वो जिसमे रंगी थी राधा, रंगी थी जिसमे मीरा…

मन्ना डे 
महफिले कहकशां – 02



दोस्तों सुजोय और विश्व दीपक द्वारा संचालित “कहकशां” और “महफिले ग़ज़ल” का ऑडियो स्वरुप लेकर हम हाज़िर हैं, महफिले कहकशां के रूप में. पूजा अनिल के साथ अदब और शायरी की इस महफ़िल में आज सुनिए प्रबोध चन्द्र डे के प्राइवेट एल्बम से एक मन रंग देने वाला प्यारा सा गीत.


मुख्य स्वर – पूजा अनिल
स्क्रिप्ट – विश्व दीपक एवं सुजोई चट्टर्जी 

Related posts

पंकज सुबीर के कहानी-संग्रह 'ईस्ट इंडिया कम्पनी' का विमोचन कीजिए

Amit

जब उसने गेसु बिखराये…एक अदबी शायर जो दशक दर दशक रचता गया फ़िल्मी गीतों का कारवाँ भी

Sajeev

धमार के रंग : SWARGOSHTHI – 312 : DHAMAR KE RANG

कृष्णमोहन

Leave a Comment