Dil se Singer

साहिर के गीतों को ही अपनी “पि एच डी” मानते हैं गीतकार सागर

हालिया प्रदर्शित “बॉलीवुड डायरीस” के गीतकार डाक्टर.सागर से एक ख़ास मुलाक़ात आज के “एक मुलाक़ात ज़रूरी है” कार्यक्रम में. “मन का मिरगा” और “मनवा बहरूपिया” जैसे सफल गीतों के माध्यम से सागर एक ताज़ी बयार बनकर उभरे हैं गीत लेखन की दुनिया में. जानिये कैसा रहा उनका, बलिया से मुंबई तक का सफ़र.

Related posts

“चंद रोज गीत मेरे घर पे ही रिकॉर्ड हुआ था पल्लवी जोशी की आवाज़ में” – संगीतकार रोहित शर्मा

Sajeev

पुण्य तिथि पर पण्डित विष्णु गोविन्द (वी.जी.) जोग को एक स्वरांजलि

कृष्णमोहन

ओ बसन्ती पवन पागल न जा रे न जा रोको कोई…मगर रोक न पायी कोई सदा राज को जाने से

Sajeev

Leave a Comment