Dil se Singer

मुसीबत मोल ली मैंने – मोनिका गुप्ता

लोकप्रिय स्तम्भ “बोलती कहानियाँ” के अंतर्गत हम हर सप्ताह आपको सुनवाते रहे हैं नई, पुरानी, अनजान, प्रसिद्ध, मौलिक और अनूदित, यानि के हर प्रकार की कहानियाँ। पिछली बार आपने मोनिका गुप्ता के स्वर में उन्हीं की लघुकथा “लव यू” का पाठ सुना था।

आज हम आपकी सेवा में मोनिका गुप्ता लिखित व्यंग्य मुसीबत मोल ली मैंने, उन्हीं के स्वर में प्रस्तुत कर रहे हैं।

इस व्यंग्य मुसीबत मोल ली मैंने का कुल प्रसारण समय 3 मिनट है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो अधिक जानकारी के लिए कृपया admin@radioplaybackindia.com पर सम्पर्क करें।


हरियाणा निवासी, साहित्यकार और रेडियो व्यक्तित्व मोनिका गुप्ता के लेख जाने माने राष्ट्रीय समाचार पत्र- पत्रिकाओं में प्रकाशित हुए हैं। आकाशवाणी और दूरदर्शन कार्यक्रमों के अलावा इन्होनें जिंगल्स और वाईस ओवर भी किए हैं। हरियाणा साहित्य अकादमी से बाल साहित्य पुरस्कार मिल चुका है। अभी तक सात किताबे प्रकाशित हुई हैं जिसमें से दो नेशनल बुक ट्र्स्ट से हैं। लेखन और वाचन के साथ साथ कार्टूनों के माध्यम से भी अपने विचार व्यक्त कर रही है।


हर सप्ताह यहीं पर सुनें एक नयी हिन्दी कहानी


“आज स्कूल बस भी तो नहीं आएगी, बच्चों को स्कूल भी छोडना है।”
 (मोनिका गुप्ता के व्यंग्य “मुसीबत मोल ली मैंने” से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें.


(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)
यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
मुसीबत मोल ली मैंने MP3


#Thirteenth Story, Musibat Mol Li Maine; Monica Gupta; Hindi Audio Book/2015/13. Voice: Monica Gupta

Related posts

रसिया पवन झकोरे आये….लीजिए सुनिए एक और दुर्लभ गीत

Sajeev

‘सिने पहेली’ में आज आप पर फेंक रहे हैं गीतों भरी गूगली

PLAYBACK

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना…शोखियों में डूबा एक नशीला गीत

Sajeev

2 comments

Anita August 26, 2015 at 6:44 am

वाह..यह तो वही बात हुई..आ बैल मुझे मार..

Reply
vJ April 15, 2016 at 4:04 am

Bhai Wah!!

Reply

Leave a Comment