Dil se Singer

बोलती कहानियाँ: बहू लक्ष्मी – श्यामचंद्र कपूर

रेडियो प्लेबैक इंडिया के सभी श्रोताओं को दीपावली पर्व पर हार्दिक शुभकामनायें!

‘बोलती कहानियाँ’ इस स्तम्भ के अंतर्गत हम आपको सुनवा रहे हैं नई पुरानी, रोचक कहानियाँ। पिछली बार आपने प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार जयशंकर प्रसाद की कथा “छोटा जादूगर” का पॉडकास्ट अर्चना चावजी की आवाज़ में सुना था। आज हम लेकर आये हैं लेखक श्याम चंद्र कपूर की कथा “बहू लक्ष्मी“, वाचन अर्चना चावजी द्वारा।

कहानी “बहू लक्ष्मी” का कुल प्रसारण समय 7 मिनट 38 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो देर न करें। अधिक जानकारी के लिए कृपया हमें admin@radioplaybackindia.com पर संपर्क करें।


वर्तमान में जबकि ‘औरंगजेब की सहिष्णुता’ पर शोध प्रबन्ध लिखे जा रहे हैं, इस विषय का यथातथ्य विश्लेषण परमावश्यक है कि इतिहास को अपने मूलरूप में बनाए रखा जाय।
~ श्यामचंद्र कपूर



“बोलती कहानियाँ” में हर सप्ताह सुनें एक नयी कहानी


घर में तो खाने का ठिकाना नहीं, लड़कों के विवाह करके बहुओं को क्या खिलाऊंगा?
(श्याम चंद्र कपूर की “बहू लक्ष्मी” से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें.
(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)

यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
बहू लक्ष्मी MP3

#Tenth Story, Bahu Laxmi: Shyam Chandra Kapoor/Hindi Audio Book/2014/10. Voice: Archana Chaoji

Related posts

"जय दुर्गा महारानी की" – क्या आपने पहले कभी सुनी है संगीतकार चित्रगुप्त की गाती हुई आवाज़?

Sajeev

साजन के छोड़ कर चले जाने की स्थिति में "मैं रोय मरूँगी…" की धमकी देती नायिका

Sajeev

इंटरनेट की मदद से हिन्दी की जड़ें मज़बूत होंगी

Amit

2 comments

Smart Indian October 20, 2014 at 11:14 pm

क्षमा कीजिये, श्यामचंद्र कपूर जी का कोई चित्र हमें उपलब्ध न होने के कारण उनकी एक पुस्तक "उठो हिम्मत करो" का आवरण प्रयोग किया है। यदि आपके पास उनका कोई चित्र हो तो कृपया ईमेल द्वारा हमें admin@radioplaybackindia.com पर भेज दीजिये।

Reply
Movie tech z March 18, 2020 at 12:23 pm

पुरानी याद दिला दिया आपका बहुत बहुत धन्यवाद

Reply

Leave a Comment