Dil se Singer

ठंडी हवा हो काली घटा हो तो मन क्यों न झूमें

खरा सोना गीत – ठंडी हवा काली घटा 
प्रस्तोता – संज्ञा टंडन 
स्क्रिप्ट सुजोय चट्टरज़ी
प्रस्तुति – संज्ञा टंडन  

Related posts

खलील जिब्रान की आनंद और पीड़ा

Smart Indian

कातिल आँखों वाले दिलबर को रिझाती आशा की आवाज़

Sajeev

मोहब्बत तर्क की मैंने गरेबाँ सी लिया मैंने.. दिल पर पत्थर रखकर खुद को तोड़ रहे हैं साहिर और तलत

Amit

1 comment

dr.mahendrag April 22, 2014 at 12:08 pm

सुन्दर यादगार गीत

Reply

Leave a Comment