Dil se Singer

ऋतु प्रधान रागों से अलंकृत गीत : ‘ऋतु आए ऋतु जाए सखी…’


प्लेबैक इण्डिया ब्रोडकास्ट

रागो के रंग, रागमाला गीत के संग – 4

गौड़ सारंग, गौड़ मल्हार, जोगिया और बहार रागों का अनूठा मेल

ऋतु परिवर्तन की अनुभूति कराता गीत ‘ऋतु आए ऋतु जाए सखी री, मन के मीत न आए…’

फिल्म : हमदर्द (1953)
गायक : मन्ना डे और लता मंगेशकर 
गीतकार : प्रेम धवन 
संगीतकार : अनिल विश्वास
आलेख : कृष्णमोहन मिश्र

स्वर एवं प्रस्तुति : संज्ञा टण्डन



आपको हमारी यह प्रस्तुति कैसी लगी? अपनी प्रतिक्रिया से हमें radioplaybackindia@live.com पर अवश्य अवगत कराएँ। 

Related posts

हर शाम शाम-ए-ग़म है, हर रात है अँधेरी…शेवन रिज़वी का दर्द और तलत का अंदाज़े बयां

Sajeev

‘सिने पहेली’ में आज फ़िल्मी सितारों का महाकुंभ

PLAYBACK

लकड़ी की काठी, काठी पे घोडा…करीब २५ सालों के बाद भी ये गीत बच्चों के मन को वैसा ही भाता है जैसा पहले…

Sajeev

Leave a Comment