Dil se Singer

पॉडकास्ट कवि सम्मेलन का शक्ति विशेषांक

इंटरनेटीय कवि सम्मेलन का 15वाँ अंक

Rashmi Prabha
रश्मि प्रभा
Khushboo
खुश्बू

इन दिनों पूरे भारतवर्ष में दुर्गा पूजा की धूम है। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार देवी दुर्गा शक्तिरूप हैं। शक्ति का एक नाम ऊर्जा भी है। भारतीय दर्शन में ऊर्जा को ही अंतिम सत्य माना गया है। यदि हम पदार्थों के विभाजन की क्वार्क संकल्पना से भी सूक्ष्मत्तम किसी अविभाजित ईकाई की कल्पना करें तो वह भी ऊर्जा का ही समग्र रूप होगा। यानी ऊर्जा मूल में है, शक्ति मूल में है। शायद तभी कहते हैं कि तमाम तरह के गुणधर्मों से युक्त शिव भी बिना शक्ति के शव (मृत) है।

हम इस शक्ति के विभिन्न रूपों से हमेशा ही अपने जीवन में एकाकार होते रहते हैं। इस बार का पॉडकास्ट कवि सम्मेलन शक्ति के व्यापक रूपों की पड़ताल करने की एक कोशिश है। पिछली बार की तरह अपनी समर्थ आवाज़ और संचालन से शक्ति के विभिन्न स्वरों को पिरोने का काम किया है कवयित्री रश्मि प्रभा ने और तकनीकी ताना-बाना खुश्बू का है। श्रोताओं को याद होगा कि सितम्बर माह के इस कवि-सम्मेलन के लिए हमने ‘शक्ति’ को विषय के रूप में चुना था।

अब तो यह आप ही बतायेंगे कि इसे सफल बनाने में हमारी टीम ने कितनी शक्ति लगाई है।

वीडियो देखें-


प्रतिभागी कवि- नीलम प्रभा, सरस्वती प्रसाद, प्रीती मेहता, किरण सिन्धु, संगीता स्वरुप, रेणु सिन्हा, शन्नो अग्रवाल, मुकेश पाण्डेय, विवेकरंजन श्रीवास्तव, प्रो.सी.बी श्रीवास्तव।

नोट – अगले माह यानी अक्तूबर माह के पॉडकास्ट कवि सम्मलेन के लिए सभी प्रतिभागी कवियों के लिए हमने एक थीम निर्धारित किया है। “हिन्दी’। अपनी मातृभाषा की स्थिति को लेकर आपके दिमाग में तरह-तरह के विचार आते होंगे। बहुत से उद्‍गार, बहुत सी चिताएँ और बहुत सी सम्भावनाएँ आपकी कल्पना-शक्ति ने आपको दिये हैं। तो ‘हिन्दी’ पर अपनी कलम चलाइए और कविता रिकॉर्ड करके भेज दीजिइ। हमारी कोशिश रहेगी कि आपकी कविताओं पर एक वीडियो का भी निर्माण करें।


संचालन- रश्मि प्रभा

तकनीक- खुश्बू

यदि आप इसे सुविधानुसार सुनना चाहते हैं तो कृपया नीचे के लिंकों से डाउनलोड करें-

ऑडियो WMA MP3
वीडियो Ogg (.ogv) WMV MPEG

आप भी इस कवि सम्मेलन का हिस्सा बनें

1॰ अपनी साफ आवाज़ में अपनी कविता/कविताएँ रिकॉर्ड करके भेजें।
2॰ जिस कविता की रिकॉर्डिंग आप भेज रहे हैं, उसे लिखित रूप में भी भेजें।
3॰ अधिकतम 10 वाक्यों का अपना परिचय भेजें, जिसमें पेशा, स्थान, अभिरूचियाँ ज़रूर अंकित करें।
4॰ अपना फोन नं॰ भी भेजें ताकि आवश्यकता पड़ने पर हम तुरंत संपर्क कर सकें।
5॰ कवितायें भेजते समय कृपया ध्यान रखें कि वे 128 kbps स्टीरेओ mp3 फॉर्मेट में हों और पृष्ठभूमि में कोई संगीत न हो।
6॰ उपर्युक्त सामग्री भेजने के लिए ईमेल पता- podcast.hindyugm@gmail.com
7. अक्तूबर 2009 अंक के लिए कविता की रिकॉर्डिंग भेजने की आखिरी तिथि- 17 अक्टूबर 2009
8. अक्टूबर 2009 अंक का पॉडकास्ट सम्मेलन रविवार, 25 अक्टूबर 2009 को प्रसारित होगा।

रिकॉर्डिंग करना कोई बहुत मुश्किल काम नहीं है। हमारे ऑनलाइन ट्यूटोरियल की मदद से आप सहज ही रिकॉर्डिंग कर सकेंगे। अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ देखें।

# Podcast Kavi Sammelan. Part 15. Month: September 2009.
कॉपीराइट सूचना: हिंद-युग्म और उसके सभी सह-संस्थानों पर प्रकाशित और प्रसारित रचनाओं, सामग्रियों पर रचनाकार और हिन्द-युग्म का सर्वाधिकार सुरक्षित है।

Related posts

चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक…प्रेम धवन ने लिखा इस फ़साने को, स्वर दिया लता ने

Sajeev

बुल्ला की जाणां मैं कौन ? – बुल्ले शाह पर विशेष प्रस्तुति

Amit

ओल्ड इज़ गोल्ड – शनिवार विशेष – 44 – 'उषा मंगेशकर से ट्विटर पर छोटी सी मुलाक़ात और उनके गाये चंद असमीया फ़िल्मी गीत'

Sajeev

10 comments

शरद तैलंग September 27, 2009 at 6:20 am

कवि सम्मेलन का वीडियों मेरे क्म्प्यूटर पर चल नहीं रहा है तथा ओडियों में भी कुछ कवियों की रचनाएं सुनाई नहीं दे रहीं हैं ।

Reply
नियंत्रक । Admin September 27, 2009 at 6:25 am

कृपया आप डाउनलोड़ लिकों से ऑडियो का mp3 और वीडियो का wmv डाउनलोड कर लें। उसके बाद अपने कम्प्यूटर पर चलायें तो शायद ठीक चले।

Reply
सजीव सारथी September 27, 2009 at 10:21 am

वाह रेशमी जी और खुशबू जी, बेहद शक्ति और उर्जा से भरी प्रस्तुति लगी…..विडियो काफी मेहनत से तैयार किया है आप लोगों ने…बस एक ही बात की कमी अब लगती है इस आयोजन में…..जितनी रेशमी जी की आवाज़ साफ़ सुनाई देती है उतनी सभी कवियों की आवाज़ भी एक पिच पर आ जाए तो मज़ा आ जाए……उन सभी को जो इस आयोजन का हिस्सा हैं उन सब को मेरी बधाई

Reply
रश्मि प्रभा... September 27, 2009 at 11:14 am

शुक्रिया सभी सुननेवालों का…..मेरा भी विनम्र निवेदन है कि आप जब भी अपनी आवाज़ भेजें,खुद सुनें , आवाज़ स्पष्ट औत तेज हो तो सम्मलेन का आकर्षण बढ़ेगा

Reply
Manju Gupta September 27, 2009 at 11:41 am

रश्मि जी के संचालन में नवरात्रे पर दुर्गा माँ की स्तुति से ,नीलम जी की स्त्री पर कविता व अन्य ]कवियों की कविताएँ सुनकर सारा परिवेश शक्तिमय हो गया . बहुत ही उत्कृष्ट कार्यक्रम लगा .अंत में -या देवी सर्वभूतेषु बुद्धिरु……..

Reply
संत शर्मा September 28, 2009 at 3:37 pm

शक्ति को केंद्र करके आयोजित किये गए इस सफल कवि सम्मेलन से जुड़े सभी बुद्धिजीवियो को हार्दिक बधाई | अपराजिता कल्याणी जी द्वारा स्वयं के स्वर में की गयी शक्ति की स्तुति बहुत कर्णप्रिय और आत्मा को सुकून पहुचाने वाली थी | कविताये सभी सशक्त थी, खास करके सरस्वती प्रसाद जी द्वारा सुनाई गयी कविता प्रभावी लगी | अगले कवि सम्मेलन का बेसब्री से ईन्तजार रहेगा |

Reply
निर्मला कपिला September 28, 2009 at 5:05 pm

कवि सम्म्ेलन का आडियो ही सुना गया बहुत बहुत सुन्दर प्रस्तुति है पूरी टीम को बहुत बहुत बधाई

Reply
shanno September 29, 2009 at 4:47 pm

रश्मि जी,
सदा की तरह इस बार भी आपका संचालन आपकी प्यारी आवाज़ व प्रभावशाली शब्दों की अभिव्यक्ति से सम्पूर्ण रहा. इसकी बधाई! इसी तरह से आगे भी इस कवि-सम्मलेन को सफलता मिलती रहे और जो कमियाँ हैं उनमें सुधार आता रहे, ऐसी कामना करती हूँ. आपको व सभी कविजनों और श्रोताओं को मेरी तरफ से भी दशेहरा की तमाम शुभकामनाएं.

Reply
kishor kumar khorendra October 16, 2009 at 8:46 pm

शक्ति विषय पर कविताएं सुना अच्छी लगी
रश्मि प्रभा जी का संचालन भी पसंद आया
हिंदी कवियों के लीये यह बहुत ही अच्छा मंच है
जानकर मन कों प्रसन्नता भी मिली

Reply
Shamikh Faraz October 19, 2009 at 6:04 am

हर बार की तरह यह आयोजन भी सफल रहा . मुबारकबाद. सभी की कवितायेँ बढ़िया लगीं.

Reply

Leave a Comment