Dil se Singer

सूरज (Sooraj)

बच्चो,

बहुत दिन हुए आपकी प्रिय मीनू आंटी की आवाज़ में हम कोई कविता पॉडकास्ट नहीं कर पा रहे थे। लेकिन आपका इंतज़ार खत्म हो गया है। हम इसबार बालकवि ऋषिकेश शिवाजी नलावडे की कविता ‘सूरज’ लेकर आये हैं। ज़रूर सुनिएगा, अपने दोस्तों को सुनाइएगा और बताइएगा कि कैसा लगा।

नीचे ले प्लेयर से सुनें.

(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर ‘प्ले’ पर क्लिक करें।)

यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंकों से डाऊनलोड कर लें (ऑडियो फ़ाइल तीन अलग-अलग फ़ॉरमेट में है, अपनी सुविधानुसार कोई एक फ़ॉरमेट चुनें)

VBR MP3 64Kbps MP3 Ogg Vorbis

Related posts

बंद कमरे की राजनीति में संगीत का तडका

Amit

GO GREEN का संदेश दे रहे हैं गुलज़ार, शंकर, एहसान और लॉय

Amit

जागो मोहन प्यारे…राग भैरव पर आधारित ये अमर गीत

Sajeev

3 comments

अल्पना वर्मा March 30, 2008 at 7:46 am

अच्छी प्रस्तुति

Reply
anju March 30, 2008 at 3:47 pm

बहुत अच्छा लगा
सचमुच मज़ा आया

Reply
sahil April 7, 2008 at 8:02 am

बेहतर प्रयास.
आलोक सिंह "साहील"

Reply

Leave a Comment